दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan

Rate this post

आज हम दोस्ती पर भाषण पढ़ेंगे । हम यहां दोस्ती पर कई भाषण दे रहे हैं। सभी भाषण सरल और सरल शब्दों का उपयोग करके छात्रों के लिए सरल वाक्यों में लिखे गए हैं। दोस्ती पर भाषण 3 मिनट, 5 मिनट, 7 मिनट आदि की समय सीमा के अनुसार दिए जाते हैं। आप भाषणों के चयन के लिए सही जगह पर हैं, आप अपनी आवश्यकता और आवश्यकता के अनुसार कोई भी भाषण चुन सकते हैं:

दोस्ती पर भाषण

दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan
दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan

दोस्ती पर भाषण – 1

इस शुभ अवसर पर हम यहां एकत्रित हुए हैं, इस अवसर पर मैं मित्रता पर भाषण देना चाहता हूं। सबसे पहले यहां उपस्थित सभी गणमान्य व्यक्तियों, शिक्षकों और शिक्षकों को मेरी सुप्रभात शुभकामनाएं। एक दोस्त हम सभी के लिए एक अनमोल तोहफा होता है। हमें हमेशा इसके महत्व को समझना चाहिए और बिना किसी गलतफहमी के महत्व देना चाहिए। दोस्ती वो रिश्ता है जिसमें खून का रिश्ता नहीं होता।

यह एक अनंत संबंध है, जो हमेशा बिना किसी लेन-देन के नियम के चलता है। यह दुनिया में किसी भी अन्य व्यक्ति के साथ प्यार और स्नेह का एक विशेष और अनूठा रिश्ता है। सच्ची मित्रता कभी भी किसी की जाति, पंथ, धर्म और रंग को नहीं देखती है: यह केवल दोस्ती में शामिल होने वाले दो या तीन व्यक्तियों की आंतरिक सुंदरता, सादगी और अंतरंगता को देखती है।

किसी का मित्र वह होता है जिसके साथ व्यक्ति सहज महसूस करता है और एक-दूसरे पर भरोसा करता है और साथ ही अपने सभी विचारों, विचारों, व्यक्तिगत भावनाओं को साझा करता है। एक दोस्त वह होता है जिसके साथ हम सुरक्षित और निडर महसूस करते हैं और जिसके साथ किसी विषय पर पुनर्विचार करने की आवश्यकता नहीं होती है। सच्चे दोस्त एक-दूसरे से सच्चा प्यार करते हैं और बिना कुछ कहे एक-दूसरे की जरूरत को समझते हैं।

read also:

वे हमेशा एक दूसरे का समर्थन करने और अच्छी सलाह और ज्ञान प्रदान करने के लिए तैयार रहते हैं। कृष्ण और सुदामा की भारत में सबसे प्रसिद्ध मित्रता थी जो प्राचीन काल से सच्ची मित्रता का एक महान उदाहरण है । अल्बर्ट हबर्ड द्वारा दोस्ती के बारे में एक आम कहावत है, “एक दोस्त वह होता है जो आपके बारे में सब कुछ जानता है और फिर भी आपसे प्यार करता है।”

सच्चे दोस्त हमेशा एक-दूसरे के साथ खड़े रहते हैं और जरूरत के समय एक-दूसरे की मदद और समर्थन करते हैं। एक सच्चा दोस्त कभी भी अपने दोस्त की मदद करने के लिए अपने महत्वपूर्ण काम की परवाह नहीं करता है और दोस्त की मदद करने के लिए अपना सारा काम भी छोड़ देता है। वह अपने दोस्त को कभी भी अकेला नहीं छोड़ती, खासकर जीवन के कठिन समय में। कहा जाता है कि मुश्किल समय में समय सच्चे दोस्तों की परीक्षा लेता है। वास्तव में, विपत्ति का समय सबसे अच्छा समय होता है जो हमें एक सच्चे मित्र के महत्व और महत्व का एहसास कराता है।

जिन लोगों के जीवन में सच्चा दोस्त होता है, दरअसल उनके पास दुनिया का सबसे कीमती तोहफा होता है। जीवन में बहुत सारे दोस्त बनाने से दोस्ती की गुणवत्ता पर कोई फर्क नहीं पड़ता। जरूरत के समय मदद नहीं करने वाले कई दोस्त होने के बजाय, जीवन भर के लिए केवल एक या दो सच्चे दोस्त ही काफी होते हैं। दोस्त ही जीवन में असली समर्थक होते हैं जो हमें जीवन की कठिनाइयों का सामना करना सिखाते हैं। वही हमारे सच्चे शुभचिंतक होते हैं जो हमारे बुरे विचारों को किसी भी अच्छी चीज की ओर मोड़ सकते हैं।

शुक्रिया।

दोस्ती पर भाषण – 2

दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan
दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan

आदरणीय शिक्षक महोदय, शिक्षकों और मेरे प्रिय साथियों को मेरा विनम्र सुप्रभात। मैं इस महान अवसर पर दोस्ती पर भाषण देना चाहता हूं। मैंने इस विषय को मित्रता के महत्व और महत्व पर आप सभी के साथ अपने विचार साझा करने के लिए चुना है। दोस्ती हर रिश्ते में सबसे पवित्र रिश्ता होता है, जो एक, दो या तीन लोगों के बीच होता है। दुनिया में सच्चा, ईमानदार और प्यारा दोस्त मिलना वाकई किस्मत की बात है। एक सच्चा दोस्त हममें से किसी को भी ईश्वर की ओर से एक विशेष उपहार है जिसे वह प्राप्त करता है।

एक सच्चा मित्र हमारे व्यर्थ जीवन को सार्थक बनाता है और हमें सफलता का सच्चा मार्ग दिखाता है। वे दोस्त हैं जो हमारे जीवन की यात्रा को आसान, उत्साह से भरपूर और जीवंत बनाते हैं। वे हमारी गलतियों पर कभी हंसते नहीं हैं, बल्कि निरंतर समर्थन से हमें सही रास्ता दिखाते हैं।

सच्चे दोस्त मुश्किल समय में अपने दोस्तों की मदद करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं, चाहे वे अपनी दिनचर्या में कितने ही व्यस्त क्यों न हों। दरअसल दोस्ती इस दुनिया का एक अनमोल रिश्ता है जिसे कभी किसी को खरीदा या बेचा नहीं जा सकता। यह दो दोस्तों के दिल में एक दूसरे के लिए प्यार पर निर्भर करता है। यह कभी भी दुनिया के भौतिकवादी सुखों पर निर्भर नहीं करता है। सच्चे दोस्त ही जीवन की असली खुशी हैं जो एक दूसरे को कभी नहीं भूलते और हमेशा मदद करते हैं।

read also:

एक इंसान के रूप में हमें जीवन और सामाजिक जीवन में समय-समय पर परिस्थितियों के अनुसार आने वाली समस्याओं से बाहर निकलने के लिए साहस की आवश्यकता होती है। ऐसे में हमारे सच्चे दोस्त हमारे जीवन में अहम भूमिका निभाते हैं और हमें मुश्किलों से बाहर निकालते हैं। सच्चे दोस्त के बिना जिंदगी अधूरी मानी जाती है। सुखी और विलासितापूर्ण जीवन होने के बावजूद जीवन में किसी सच्चे मित्र का न होना मायने रखता है।

एक अच्छा दोस्त वह होता है जिसके साथ हम अपने जीवन की सभी छोटी-बड़ी खुशियाँ, रहस्य और समस्याओं को बिना किसी झिझक के साझा करते हैं। दोस्ती वह रिश्ता है जो हमें भावनात्मक समस्याओं से बचाता है क्योंकि यह हमें अपने आंतरिक विचारों और भावनाओं को साझा करने के लिए प्रेरित करता है। सच्चे दोस्त कभी भी अपने दोस्त की आलोचना नहीं करते, बल्कि उसकी कमियों को दूर करने में मदद करते हैं।

जब भी उनमें से कोई गलत रास्ता चुनता है, तो वे सुरंग के अंत में प्रकाश की तरह उसका मार्गदर्शन करते हैं। सच्चे दोस्त हमेशा अपने पूरे अधिकार को समझते हैं और सत्य के साथ सही रास्ता चुनने की सलाह देते हैं। वे हमारी सभी गलतियों को गंभीरता से लेते हैं और हमें सही दिशा में सही रास्ता दिखाने की कोशिश करते हैं। हम कह सकते हैं कि दुनिया में सच्चे दोस्त हीरे जैसे कीमती पत्थर से ज्यादा कीमती होते हैं।

शुक्रिया।

दोस्ती पर भाषण – 3

दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan
दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan

यहाँ उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों, आदरणीय शिक्षकों और मेरे प्रिय मित्रों को नमस्कार। आज मेरे भाषण का विषय दोस्ती है। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि सच्ची दोस्ती जीवन का सबसे कीमती उपहार है। एक सामाजिक प्राणी होने के नाते हम अपना जीवन अकेले नहीं जी सकते। हम अपनी आवश्यकता और आवश्यकता के अनुसार स्वाभाविक रूप से एक-दूसरे से जुड़ जाते हैं और पर्याप्त समय सीमा के भीतर हमारे बीच की निकटता और भी बढ़ जाती है जो लंबे समय तक चलती है।

उनके बीच एक उच्च स्तर का विश्वास होता है जिसे दोस्ती कहा जाता है। आमतौर पर दोस्ती समान उम्र, समान उत्साह, भावना, भावना और स्तर के व्यक्तियों के बीच होती है, हालांकि, यह उम्र, लिंग, सामाजिक स्थिति आदि से पूरी तरह से स्वतंत्र है। सच्ची दोस्ती किसी भी उम्र, धर्म, जाति के दो व्यक्तियों के बीच हो सकती है। लिंग और सामाजिक स्थिति।

दोस्ती वह सच्चा रिश्ता है जिसकी हम सभी को जरूरत होती है। हम सभी को जीवन भर खुशी से दिन बिताने के लिए सच्चे दोस्त के साथ रहने की जरूरत है। वे हमारे अच्छे और बुरे दिनों में हमारे साथ खड़े होने के साथ-साथ हमारे खुश और दुख के पलों को साझा करके हमें जीवन में वास्तविक खुशी देते हैं। जीवन में सच्ची मित्रता के उदाहरण बहुत कम देखने को मिलते हैं।

कृष्ण और सुदामा की सच्ची और ऐतिहासिक मित्रता के बारे में हम सभी हमेशा से जानते हैं। लेकिन कुछ लोग बहुत स्वार्थी होते हैं और अपने फायदे के लिए ही अमीर, चालाक और उच्च सामाजिक स्थिति वाले लोगों से दोस्ती कर लेते हैं। ऐसे दोस्त बुरे वक्त में कभी मदद नहीं करते बल्कि हमेशा उनका फायदा उठाना चाहते हैं। बुरे वक्त में वो अपने दोस्त को छोड़ देते हैं लेकिन सच्चे दोस्त कभी भी अपने दोस्त को अकेला नहीं छोड़ते और जरूरत के समय हमेशा उसकी मदद करते हैं।

बहुत से स्वार्थी लोग अच्छे लोगों को अपना दोस्त बनाने के लिए उनके पास जाते हैं। लेकिन सच्चे दोस्तों की परीक्षा बुरे वक्त में ही होती है क्योंकि सच्चे दोस्त कभी भी अपने दोस्तों को अकेला नहीं छोड़ते और बुरे दोस्त हमेशा इसका उल्टा करते हैं। हमें जीवन में मित्र बनाते समय ऐसे मित्रों से सदैव सावधान रहना चाहिए। सच्चे दोस्त हमेशा जरूरत के समय अपने दोस्त की मदद करते हैं। सच्ची दोस्ती के बारे में एक आम कहावत है, “ज़रूरत के समय दोस्त ही दोस्त होता है” और “सौभाग्य दोस्त लाता है लेकिन विपत्तियाँ उसकी परीक्षा लेती हैं”।

सच्चे मित्र अपने मित्र के अच्छे चरित्र, अच्छी भावनाओं और भलाई की कामना करते हैं। ये कभी भी अपने दोस्त को ठेस पहुंचाने की कोशिश नहीं करते, इसके अलावा ये हमेशा उनके संपर्क में रहने की कोशिश करते हैं। सच्चे दोस्तों का किसी भी तरह का खून का रिश्ता नहीं होता, हालांकि जो कुछ भी करते हैं वो किसी भी खून के रिश्तेदार से ज्यादा करते हैं।

शुक्रिया।

दोस्ती पर भाषण 4

दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan
दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan

यहां उपस्थित सभी सम्मानित गणमान्य व्यक्तियों को सुबह की बधाई। मैं दोस्ती के विषय पर भाषण देना चाहता हूं। सबसे पहले तो मैं अपने कक्षा शिक्षक/शिक्षक का बहुत आभारी हूँ कि उन्होंने मुझे इस महान अवसर पर आप सभी के सामने बोलने का अवसर दिया। दोस्ती दुनिया के सबसे कीमती और खूबसूरत रिश्तों में से एक है। यह रिश्ता कोई खून का रिश्ता नहीं होता, बल्कि यह किसी भी खून के रिश्ते से ज्यादा रिश्ता निभाता है, जिसकी हम न तो कल्पना कर सकते हैं और न ही शब्दों में बयां कर सकते हैं।

सच्चे और सच्चे दोस्त हमारे साहस के प्रतीक हैं जो हमेशा हमारे लिए भावुक होते हैं और शारीरिक सहायता प्रदान करते हैं। जब भी उनके दोस्त को बुरे समय में उनकी जरूरत होती है, सच्चे दोस्त कभी भी अपना कीमती समय एक साथ बिताने से नहीं चूकते और उनके साथ जीवन का भरपूर आनंद लेते हैं। इस दुनिया में सच्चा दोस्त मिलना बहुत मुश्किल है, हालांकि असंभव नहीं है। हमें थकना नहीं चाहिए बल्कि जीवन भर अच्छे दोस्तों की तलाश करते रहना चाहिए क्योंकि मिलना मुश्किल है लेकिन नामुमकिन नहीं।

सच्चे दोस्त हमेशा साथ रहते हैं और जीवन भर एक-दूसरे के प्रति और एक-दूसरे के परिवा के प्रति अपनी सभी जिम्मेदारियों को निभाते हैं। दोस्ती एक बहुत ही प्यारा रिश्ता है जिसकी खूबसूरत यादें जीवन भर बनी रहती हैं। हम फिल्में देखते हैं, गाने सुनते हैं, टीवी सीरियल देखते हैं, खाना खाते हैं, पढ़ाई करते हैं आदि बिना किसी समस्या के एक साथ काम करते हैं। कुछ सवाल हर किसी के मन में हमेशा उठते हैं जैसे; जीवन में सच्चे मित्र क्यों आवश्यक हैं? सच्चे दोस्त हमारे जीवन में अन्य रिश्तों से ज्यादा महत्वपूर्ण क्यों हैं? उस अदृश्य बंधन का क्या नाम है जो दो या दो से अधिक मित्रों को वर्षों या जीवन भर के लिए एक साथ बांधता है? सच्ची दोस्ती क्या सिखाती है? आदि

विश्वास सभी रिश्तों के लिए बहुत महत्वपूर्ण होता है, हालांकि, यह दोस्ती के रिश्तों में स्वाभाविक रूप से आता है। सच्ची दोस्ती आपसी विश्वास और समझ के कारण हमेशा बनी रहती है। जैसे-जैसे रिश्ता गहरा होता है, समय के साथ विश्वास और समझ बढ़ती जाती है। कुछ ही समय में हमारा सबसे प्यारा दोस्त हमारे दिल में हमारे माता-पिता, भाइयों और बहनों से कहीं ज्यादा गहरा हो जाता है। हम हमेशा अपने प्यारे दोस्त पर भरोसा करते हैं और आँख बंद करके उसके फैसलों का इस विश्वास के साथ पालन करते हैं कि वह हमें कभी गलत रास्ता नहीं दिखाएगा।

हम अपने दोस्त के साथ अपनी सारी अच्छी यादें हमेशा याद रखते हैं जैसे; खिलौनों के साथ खेलें, टिफिन, किताबें, कपड़े, ग्रह कार्य आदि साझा करें। दोस्तों के साथ साझा करने की आदत हमें जीवन भर स्वार्थी और उदार रहना सिखाती है।

दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan
दोस्ती पर भाषण » Dosti par Bhasan

धन्यवाद।पोस्ट

Leave a Comment

error: Content is protected !!