Tadeusz borowski biography in hindi

4.9/5 - (7 votes)

तदेउश बोरोव्स्की (Tadeusz Borowski) एक पोलिश लेखक थे, जिन्होंने अपनी लेखनी के माध्यम से दूसरी विश्व युद्ध के समय नाजी जर्मनी के कंसेंट्रेशन कैम्पों में हुए अत्याचारों और नरसंहारों को विवरण दिया।

तदेउश बोरोव्स्की का जन्म 12 नवंबर 1922 को ल्वोव, पोलैंड में हुआ था। उन्होंने पोलिश भाषा और साहित्य में स्नातक की डिग्री हासिल की थी।

दूसरी विश्व युद्ध के दौरान, उन्होंने नाजी जर्मनी के कंसेंट्रेशन कैम्पों में कैदियों के लिए जॉब करना शुरू किया। उनका अनुभव कम्पों में आधारित उनकी कहानियों और उपन्यासों में व्यक्त होता है। टाडेउश बोरोव्स्की एक पोलिश लेखक थे, जो दूसरे विश्व युद्ध के दौरान अपने अनुभवों के आधार पर लेखन करते थे।

Tadeusz borowski biography

तदेउश बोरोव्स्की ने अपनी लेखनी की शुरुआत 1945 में की थी और उन्होंने बाद में बहुत सारे लेख, कहानियां और उपन्यास लिखे।

उनकी सबसे अधिक प्रशंसित पुस्तक “This Way for the Gas, Ladies and Gentlemen” है, जो 1959 में प्रकाशित हुई थी। इस पुस्तक में उन्होंने कंसेंट्रेशन कैम्पों में उनके अनुभवों के विवरण को विस्तार से बताया

टाडेउश बोरोव्स्की का जीवन दूसरे विश्व युद्ध के दौरान बहुत उतार-चढ़ावों से भरा था। उन्होंने नाजी आधुनिकता के कैम्प में दो साल काम किया था, जहां उन्हें रहने वालों के लिए आर्थिक समस्याओं के समाधान के लिए काम करना पड़ता था।

उनकी पत्नी भी एक ऐसे कैम्प में बंद थी। इस अनुभव से उन्हें कई लेखन विषय मिले और उन्होंने कई कहानियाँ और कविताएं लिखीं, जो उनकी अनुभवों के बारे में थीं।

ताडेउश बोरोव्स्की एक पोलिश लेखक और कवि थे जिन्होंने द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान अपने अनुभवों के बारे में लेखन किया था। उनकी लेखनी में बहुत कुछ उनके अध्ययन एवं अनुभवों से उत्पन्न हुआ।

तदेउश बोरोव्स्की (Tadeusz Borowski) का जन्म

Tadeusz borowski biography in hindi

वे 12 नवंबर, 1922 को ल्युब्लिन, पोलैंड में एक यहूदी परिवार में जन्मे थे। उनके पिता एक एडवोकेट थे। टाडेउश अपनी कॉलेज शिक्षा के दौरान सामाजिक और राजनीतिक गतिविधियों में शामिल हुए थे और दूसरे विश्व युद्ध में जाने से पहले एक लेखक के रूप में अपनी कॉलेज में लेखन शुरू कर दिया था।

ताडेउश बोरोव्स्की 12 नवंबर, 1922 को ल्वोव, पोलैंड (अब यह यूक्रेन में है) में एक यहूदी परिवार में जन्मे थे। टाडेउश बोरोव्स्की का जन्म 12 नवंबर, 1922 को ल्युब्लिन, पोलैंड में हुआ था।

उनके पिता अध्यापक थे जो उन्हें उनके शिक्षा में समर्थन करने के लिए कई बार स्कूल बदलते रहे। उन्होंने प्रथम विश्व युद्ध के दौरान भाग लिया था और बाद में पोलैंड में अपने अध्ययनों को जारी रखने के लिए वापस आ गए।

द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान, उन्होंने नाजी के कैंप में बंद रहते हुए कई वर्ष व्यतीत किए। ये अनुभव बाद में उन्हें उनकी लेखनी में उत्पन्न करते हैं।

उनकी पहली किताब “एक स्थान अंदरुन्या में” (“This Way for the Gas, Ladies and Gentlemen”) द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान जो सत्यापित किए गए घटनाओं के बारे उल्लेख किया है.

तदेउश बोरोव्स्की की पत्नी

तदेउश बोरोव्स्की की पत्नी का नाम मारियना नागोर्स्का था। वे दोनों दूसरे विश्व युद्ध के दौरान नाजी आधुनिकता के कैम्प में बंद थे।

तदेउश बोरोव्स्की की पत्नी का नाम मारियन्ना बोरोव्स्की था। वे दोनों नाजी आधुनिकता के कैम्प में फंसे थे जहां उन्हें कठिन परिस्थितियों का सामना करना पड़ता था। उन्होंने एक दूसरे का साथ दिया और इस कठिन समय में एक दूसरे के सहारे खड़े रहे।

तदेउश बोरोव्स्की की शादी

तदेउश बोरोव्स्की की शादी 1946 में हुई थी। उन्होंने मारियन्ना बोरोव्स्की से शादी की थी। उनकी शादी का विवरण बोरोव्स्की की लेखनी के कुछ कृतियों में दर्शाया गया है, जहां वे अपनी पत्नी के साथ उनके जीवन के कई अहम पलों के बारे में विवरण देते हैं।

तदेउश बोरोव्स्की की कहानियाँ

तदेउश बोरोव्स्की की कहानियाँ अधिकतर उनके अनुभवों पर आधारित हैं जो वे दूसरे विश्वयुद्ध में जेनेवा, बुचेनवाल्ड, और अश्वित्ज के कैम्प में रहते हुए जीते थे।

उनकी कहानियों में दर्द, दुख, और मनोविषाद से भरे व्यक्तियों के जीवन के अंतरंग पलों को दर्शाया गया है। उनकी प्रसिद्ध कहानियों में से कुछ हैं:

  • “This Way for the Gas, Ladies and Gentlemen”
  • “The World of Stone”
  • “Silence”
  • “The Supper”
  • “A Day at Harmenz”
  • “The People Who Walked On”
  • “Auschwitz, Our Home”
  • “Ladies and Gentlemen, to the Gas Chamber”
  • “A Visit”
  • “The January Offensive”

तदेउश बोरोव्स्की की पुस्तकों के नाम

तदेउश बोरोव्स्की की कुछ मुख्य पुस्तकों के नाम निम्नलिखित हैं:

  1. “एश्वित्ज कैंप से यादें”
  2. “अपने देहांत से पहले”
  3. “आग और रात”
  4. “एश्वित्ज कैंप से कहानियाँ”
  5. “यहाँ से गैस चले जाते हैं, महिलाएँ और सज्जनों के लिए”
  6. “We Were in Auschwitz”
  7. “This Way for the Gas, Ladies and Gentlemen: And Other Stories”
  8. “Selected Poems”
  9. “Pożegnanie z Marią i inne opowiadania” (Farewell to Maria and Other Stories)


FAQ Related To Tadeusz borowski biography

तदेउश बोरोव्स्की की पत्नी का नाम क्या है?

तदेउश बोरोव्स्की की पत्नी का नाम मारियना नागोर्स्का था।

तदेउश बोरोव्स्की की शादी कब हुई?

तदेउश बोरोव्स्की की शादी 1946 में हुई थी। उन्होंने मारियन्ना बोरोव्स्की से शादी की थी।

निष्कर्ष:

इस पोस्ट में आपको Tadeusz borowski biography in hindi की जानकारी पर्दान की गई है। यह जानकारी Tadeusz borowski biography in hindi आपको केसी लगी कमेंट box में जरुर बताये। एसी ही और जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट Fun-hindi.com पर biography सर्च करे।

Leave a Comment