कविताएं – Best poems In Hindi

Poem in hindi fun-hindi.com

हेल्लो दोस्तों आज हम आपके लिए लेकर आये है बहुत ही शानदार 20 कविताएं (Best poems In Hindi ) हिंदी में जिनको आप अपने दोस्तों को भेज सकते है और  WhatsApp, Facebook, Instagram और telegram आदि पर स्टेटस भी लगा सकते है … अगर आपको हमारी यह न्यू 20 कविताएं  (Best poems In Hindi ) पसंद आये तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरुर बताये ताकि हम इस तरह की और पोस्ट कर सके…

 

मैं बादल तो नही!

 

नीली आँखों में, जादू कोई

खिंचे मुझको जो अपनी ओर से

काली जुल्फें हैं, घटा बादल की

घेरें स्याहियां, मुझे चारों ओर से

 

मैं बादल तो नही, बरसा मगर

मैं पागल तो नही, तरसा अगर

हुआ हूँ क्यों दीवाना ये जानूँ ना

हर अदा लाजवाब है, मानूँ मैं।

 

चलती जो, बलखाती सी कमर

जैसे गांव की वो सी डगर हो

झूमका जो, करे पागल मुझको

मैं चाँद कहूँ, अगर हो।

 

मैं बादल तो नही, बरसा मगर

मैं पागल तो नही, तरसा अगर

क्यों हुआ, ये दिल तेरा जानूँ ना

तू ही मेरा है अब सबकुछ मानूँ मैं।

 

बेहिसाब है, हर अदा लाजवाब है

चाँद भी शर्मा के छिप जाए

तू आफताब है, तू ही सब से शाद है

आबाद हो जाऊं, जो तू मिल जाये।

 

मैं बादल तो नही, बरसा मगर

मैं पागल तो नही, तरसा अगर

तुझको माना मैंने खुदा, क्यों जानूँ ना

तू ही है ये मेरा जहां, मानूँ मैं।

www.fun-hindi.com

 

अरे परदेशी!

 

यहीं आस पास होती है जिंदगी

झूठी सी बेबुनियाद होती है बन्दगी

एक पल को, यहां का मैं अपना था

जो दूजा पल, तो हर एक सपना था।

अभी इक पल को, यहीं का था मैं

अब इस पल में, किसी का भी न रहा।

 

जो छू ले हवाँ, तो कहे मुझे,

अभी तुम यहाँ, पराए हो!

अरे परदेशी,चलें जाओ तुम,

अब  यहाँ,  क्यों आये हो?

 

न कोई अब रहा यकीन,

फलसफा भी हर दफा झूठा रहा

हुआ मुमकिन से नामुमकिन

मेरा पता भी लापता, मुझसे टूटा रहा।

जो जागा मैं तो, अकेला सा था

ठिठुरता हुआ, बंजारा सा था

अभी इक पल में, यहीं का था मैं

अब इस पल में किसी का ना रहा।

 

जो गुजरे सांसे, कहें रुककर के

अभी तुम यहाँ, पराये हो!

अरे परदेशी, चले जाओ तुम

अब यहाँ, क्यों आये हो?

www.fun-hindi.com

Read more

error: Content is protected !!