100 chand par shayari in hindi and english

100 chand par shayari in hindi and english

100 chand par shayari in hindi and english – आज हम आपके लिए बहुत ही शानदार चाँद पर शायरी लेकर आये हैं, एसी चाँद शायरी जिन्हें आप अपने प्यार (प्रेमी) या प्रेमिका को भेज कर के उसे ख़ुश कर सकते हैं। चाँद को हम प्यार की निशानी भी मानते है। अपने प्यार (प्रेमी) या प्रेमिका की तुलना चाँद से करना और उसके सामने चाँद को भी फीका बताना, यह सब प्यार को और भी खास और गहरा बनाता है।

100 chand par shayari in hindi and english


🤍💕🌙🌙💌  चाँद पर शायरी 💌🌙🌙💕🤍

तू 🌜चाँद🌛और मैं सितारा होता, आसमान में एक आशियाना हमारा होता,

लोग तुम्हे दूर से देखते, नज़दीक़ से देखने का, हक़ बस हमारा होता..!! 

Tu Chaand Aur Main Sitaara Hota, Aasmaan Mein Ek Aashiyana Hamara Hota,

Log Tumhe Dur Se Dekhte, Nazdeek Se Dekhne Ka, Haq Bas Hamara Hota.

ऐ काश हमारी क़िस्मत में ऐसी भी कोई शाम आ जाए,

एक 🌜चाँद🌛फ़लक पर निकला हो एक छत पर आ जाए।

Ai Kash Hamari Qismat Mein Aisi Bhi Koi Sham Aa Jaye,

Ek Chaand Falak Par Nikla Ho Ek Chhat Par Aa Jaye.

आज टूटेगा गुरूर 🌜चाँद🌛का तुम देखना यारो,

आज मैंने उन्हें छत पर बुला रखा है।

Aaj Tootega Guroor Chaand Ka Tum Dekhna Yaaro,

Aaj Maine Unhein Chhat Pe Bula Rakha Hai.

आसमान और ज़मीं का है फासला हर-चंद,

ऐ सनम दूर ही से 🌜चाँद🌛सा मुखड़ा दिखला।

Aasmaan Aur Zameen Ka Hai Fasla Har-Chand,

Ai Sanam Door Hi Se Chaand Sa Mukhada Dikhla.

🌜चाँद🌛भी हैरान… दरिया भी परेशानी में है,

अक्स किस का है ये इतनी रौशनी पानी में है।

Chaand Bhi Hairan… Dariya Bhi Pareshani Mein Hai,

Aks Kis Ka Hai Ye Itni Roshni Paani Mein Hai.

कितना हसीन 🌜चाँद🌛सा चेहरा है,

उसपे शबाब का रंग गहरा है,

खुदा को यकीन न था वफ़ा पे,

तभी 🌜चाँद🌛पे तारों का पहरा है।

Kitna Hasin Chand Sa Chehra Hai,

Uspe Shabab Ka Rang Gehra Hai,

Khuda Ko Yakeen Na Tha Wafa Pe,

Tabhi Chand Pe Taaro Ka Pehra Hai.

बेसबब मुस्कुरा रहा है 🌜चाँद 🌛

कोई साजिश छुपा रहा है 🌜चाँद 🌛

Besabab Mukura Raha Hai Chaand,

Koi Saazish Chupa Raha Hai Chaand.

वो 🌜चाँद🌛कह के गया था कि आज निकलेगा,

तो इंतिज़ार में बैठा हुआ हूँ शाम से ही मैं।

Wo Chaand Keh Ke Gaya Tha Ki Aaj Niklega,

To Intezaar Mein Baitha Hua Hun Sham Se Hi Main.

तुझको देखा तो फिर उसको ना देखा मैंने,

🌜चाँद🌛कहता रह गया मैं 🌜चाँद🌛हूँ मैं 🌜चाँद🌛हूँ।

Tujhko Dekha To Phir Usko Na Dekha Maine,

Chaand Kahta Rah Gaya Main Chaand Hoon Main Chaand Hoon.

 


100 chand par shayari in hindi and english

यह भी पढ़े –


एक अदा आपकी दिल चुराने की,

एक अदा आपकी दिल में बस जाने की,

चेहरा आपका 🌜चाँद🌛सा और एक…

हसरत हमारी उस 🌜चाँद🌛को पाने की।

ek ada aapakee dil churaane kee,

ek ada aapakee dil mein bas jaane kee,

chehara aapaka 🌜chaand🌛sa aur ek…

hasarat hamaaree us chaandako paane kee.

उसके चेहरे की चमक के सामने सादा लगा,

आसमाँ पर 🌜चाँद🌛पूरा था… मगर आधा लगा।

Uske Chehre Ki Chamak Ke Samne Saada Laga,

Aasmaan Par Chaand Poora Tha… Magar Aadha Laga.

तू अपनी निगाहों से न देख खुद को,

चमकता हीरा भी तुझे पत्थर लगेगा,

सब कहते होंगे 🌜चाँद🌛का टुकड़ा है तू,

मेरी नजर से 🌜चाँद🌛तेरा टुकड़ा लगेगा।

Tu Apni Nigahon Se Na Dekh Khud Ko

Chamakta Heera Bhi Tujhe Patthar Lagega,

Sab Kehte Honge Chand Ka Tukda Hai Tu,

Meri Nazar Se Chand Tera Tukda Lagega.

🌜चाँद🌛में नज़र कैसे आए तेरी सूरत मुझको,

आँधियों से आसमाँ का रंग मैला हो गया।

Chaand Mein Nazar Kaise Aae Teri Soorat Mujhko,

Aandhiyon Se Aasmaan Ka Rang Maila Ho Gaya.

मेरा और 🌜चाँद🌛का मुक़द्दर एक जैसा है,

वो तारो में अकेला मैं हजारो में अकेला।

Mera Aur Chaand Ka Muqaddar Ek Jaisa Hai,

Wo Taaro Mein Akela Main Hajaaro Mein Akela.

दिन में चैन नहीं ना होश है रात में

खो गया है 🌜चाँद🌛भी देखो बादल के आगोश में

Din Mein Chain Nahi Na Hosh Hai Raat Mein,

Kho Gaya Hai Chaand Bhi Dekho Baadal Ke Aagosh Mein.

क्यों मेरी तरह रातों को रहता है परेशान,

ऐ 🌜चाँद🌛बता किस से तेरी आँख लड़ी है।

Kyu Meri Tarah Raton Ko Rehta Hai Pareshaan,

Ai Chaand Bata Kis Se Teri Aankh Ladi Hai.

रात भर आसमां में हम 🌜चाँद🌛ढूढ़ते रहे,

🌜चाँद🌛चुपके से मेरे आँगन में उतर आया।

Raat Bhar Aasmaan Mein Hum Chaand Dhoondte Rahe,

Chaand Chupke Se Mere Aangan Mein Utar Aaya.

इक अदा आपकी दिल चुराने की,

इक अदा आपकी दिल में बस जाने की,

चेहरा आपका 🌜चाँद🌛सा और एक

हसरत हमारी उस 🌜चाँद🌛को पाने की।

Ik Adaa Aapki Dil Churane Ki,

Ik Adaa Aapki Dil Mein Bas Jaane Ki,

Chehra Aapka Chand Sa Aur Ek,

Hasrat Humari Uss Chand Ko Paane Ki.

पत्थर की दुनिया जज़्बात नहीं समझती,

दिल में क्या है वो बात नहीं समझती,

तनहा तो 🌜चाँद🌛भी सितारों के बीच में है,

पर 🌜चाँद🌛का दर्द वो रात नहीं समझती।

Patthar Ki Duniya Jazbaat Nahi Samjhati,

Dil Mein Kya Hai Wo Baat Nahi Samajhati,

Tanha Toh Chaand Bhi Sitaaron Ke Bheech Mein Hai,

Par Chaand Ka Dard Wo Raat Nahi Samjhati.


यह भी पढ़े –

100 chand par shayari in hindi and english


मुन्तज़िर हूँ कि सितारों की जरा आँख लगे,

🌜चाँद🌛को छत पे बुला लूँगा इशारा करके।

Muntazir Hoon Ke Sitaaron Ki Jara Aankh Lage,

Chaand Ko Chhat Pe Bula Lunga Ishaara Kar Ke.

चलो 🌜चाँद🌛का किरदार अपना लें हम,

दाग अपने पास रखें और रौशनी बाँट दें।

Chalo Chaand Ka Kirdaar Apna Len Ham,

Daag Apne Pas Rakhen Aur Roshni Baant Den.

ऐ 🌜चाँद🌛मुझे बता तू मेरा क्या लगता है,

क्यूँ मेरे साथ सारी रात जगा करता है,

मैं तो बन बैठा हूँ दीवाना उनके प्यार में,

क्या तू भी किसी से बेपनाह मोहब्बत करता है।

Aye Chaand Mujhe Bata Tu Mera Kya Lagta Hai,

Kyu Mere Saath Sari Raat Jaga Karta Hai,

Main Toh Ban Baitha Hu Diwana Unke Pyaar Mein,

Kya Tu Bhi Kisi Se Bepanah Mohabbat Karta Hai.

क्यूँ मेरी तरह रातों को रहता है परेशाँ,

ऐ 🌜चाँद🌛बता किस से तेरी आँख लड़ी है।

Kyun Meri Tarah Raaton Ko Rehta Hai Pareshaan,

Ae Chaand Bata Kis Se Teri Aankh Ladi Hai.

कल चौदहवी की रात थी रात भर रहा चर्चा तेरा,

कुछ ने कहा ये 🌜चाँद🌛है, कुछ ने कहा चेहरा तेरा।

Kal Chaudhvi Ki Raat Thi Raat Bhar Raha Charcha Tera,

Kuchh Ne Kaha Ye Chaand Hai, Kuchh Ne Kaha Chehra Tera.

ढूँढता हूँ मैं जब अपनी ही खामोशी को,

मुझे कुछ काम नहीं दुनिया की बातों से,

आसमाँ दे न सका 🌜चाँद🌛अपने दामन का,

माँगती रह गई धरती कई रातों से।

Dhudhta Hun Main Jab Apni Hi Khamoshi Ko,

Mujhe Kuchh Kaam Nahi Duniya Ki Baaton Se,

Aasman De Na Saka Chaand Apne Daaman Ka,

Maangti Reh Gayi Dharti Kayi Raaton Se.

तुझको देखा तो फिर उसको ना देखा मैं,

🌜चाँद🌛कहता रह गया मैं 🌜चाँद🌛हूँ मैं 🌜चाँद🌛हूँ।

Tujhko Dekha Toh Fir Usko Na Dekha Maine,

Chaand Kehta Rah Gaya Main Chaand Hoon, Main Chaand Hoon.

न चाहते हुए भी मेरे लब पर

ये फरियाद आ जाती है,

ऐ 🌜चाँद🌛सामने न आ

सनम की याद आ जाती है।

Na Chahte Hue Bhi Mere Lab Par

Ye Phariyaad Aa Jaati Hai,

Ai Chaand Saamane Na Aaa

Sanam Ki Yaad Aa Jaati Hai.

मुझे ये ज़िद है कभी 🌜चाँद🌛को असीर करूँ,

सो अब के दरिया में एक दाएरा बनाना है।

Mujhe Ye Zid Hai Kabhi Chaand Ko Aseer Karoon,

So Ab Ke Dariya Mein Ek Daera Banana Hai.

कभी तो आसमान से 🌜चाँद🌛उतरे जाम हो जाए,

तुम्हारे नाम की एक ख़ूबसूरत शाम हो जाए।

Kabhi To Aasmaan Se Chaand Utre Jaam Ho Jaye,

Tumhare Naam Ki Ek Khoobsoorat Shaam Ho Jaye.


यह भी पढ़े –

100 chand par shayari in hindi and english

पूछो इस 🌜चाँद🌛से कैसे सिसकते थे हम,

उन तन्हा रातों में तकिये से लिपटकर रोते थे हम,

तूने तो देखा नही छोड़ने के बाद,

दिल का हर एक राज़ 🌜चाँद🌛से कहते थे हम।

Poochho Is Chaand Se Kaise Sisakte The Ham,

Un Tanha Raaton Mein Takiye Se Lipatkar Rote The Ham,

Tune To Dekha Nahi Chhodne Ke Baad,

Dil Ka Har Ek Raaz Chaand Se Kahte The Ham.

सुबह हुई कि… छेड़ने लगता है सूरज मुझको,

कहता है बड़ा नाज़ था अपने 🌜चाँद🌛पर अब बोलो।

Subah Hui Ki… Chhedne Lagta Hai Sooraj Mujhko,

Kehta Hai Bada Naaz Tha Apne Chaand Par Ab Bolo.

आज टूटेगा गुरूर 🌜चाँद🌛का देखना दोस्तो,

आज मैंने उन्हें छत पर बुला रखा है।

Aaj Tootega Guroor Chaand Ka Dekhna Dosto,

Aaj Maine Unhen Chhat Par Bula Rakha Hai.

इश्क तेरी इन्तेहाँ इश्क मेरी इन्तेहाँ,

तू भी अभी न-तमाम मैं भी अभी न-तमाम।

Ishq Teri Intehaan Ishq Meri Intehaan,

Tu Bhi Abhi Na-Tamam Main Bhi Abhi Na-Tamam.

रात को रोज़ डूब जाता है…

🌜चाँद🌛को तैरना सिखाना है मुझे।

Raat Ko Roz Doob Jata Hai…

Chaand Ko Tairana Sikhana Hai Mujhe.

सारी रात गुजारी हमने इसी इन्तजार में की,

अब तो 🌜चाँद🌛निकलेगा आधी रात में…

वो थका हुआ मेरी बाहों में ज़रा सो गया था तो क्या हुआ,

अभी मैं ने देखा है 🌜चाँद🌛भी किसी शाख़-ए-गुल पे झुका हुआ !

जिन आँखों में काजल बन कर तैरी काली रात

उन आँखों में आंसू का इक कतरा होगा 🌜चाँद 🌛।

jin aankhon mein kaajal ban kar tairee kaalee raat

un aankhon mein aansoo ka ik katara hoga chaand .

ना 🌜चाँद🌛चाहिए ना फलक चाहिए

मुझे बस तेरी की एक झलक चाहिए

na 🌜chaand🌛chaahie na phalak chaahie

mujhe bas teree kee ek jhalak chaahie

सुबह हुई कि छेडने लगता है सूरज मुझको,

कहता है बडा नाज़ था अपने 🌜चाँद🌛पर अब बोलो।

subah huee ki chhedane lagata hai sooraj mujhako,

kahata hai bada naaz tha apane chaandapar ab bolo.

रात में एक टूटता तारा देखा बिलकुल मेरे जैसा था…

🌜चाँद🌛को कोई फर्क नहीं पड़ा बिलकुल तेरे जैसा था !

raat mein ek tootata taara dekha bilakul mere jaisa tha…

chaandako koee phark nahin pada bilakul tere jaisa tha !


यह भी पढ़े –

100 chand par shayari in hindi and english

🌜चाँद🌛को तो चाहने वाले है सभी,

पर देखना ये है की 🌜चाँद🌛किस पर फ़िदा होता है.

🌜chaand🌛ko to chaahane vaale hai sabhee,

par dekhana ye hai kee chaandakis par fida hota hai.

🌜चाँद🌛तो अपनी 🌜चाँद 🌛नी को ही निहारता है

उसे कहाँ खबर कोई चकोर प्यासा रह जाता है

🌜chaand🌛to apanee 🌜chaand 🌛nee ko hee nihaarata hai

use kahaan khabar koee chakor pyaasa rah jaata hai

चलो 🌜चाँद🌛का किरदार अपना लें हम दोस्तो,

दाग अपने पास रखें और रौशनी बाँट दें।

chalo 🌜chaand🌛ka kiradaar apana len ham dosto,

daag apane paas rakhen aur raushanee baant den.

🌜चाँद🌛हो या न हो, चांदनी रात है,

मैं तेरे साथ,तू मेरे साथ है !

🌜chaand🌛ho ya na ho, chaandanee raat hai,

main tere saath,too mere saath hai !

ख्वाबो की बातें वो जाने जिनका नींद से रिश्ता हो,

मैं तो रात गुजारती हुँ 🌜चाँद🌛को देखने में…

khvaabo kee baaten vo jaane jinaka neend se rishta ho,

main to raat gujaaratee hun chaandako dekhane mein…

ऐ 🌜चाँद🌛चला जा क्यों आया है तू मेरी चौखट पर,

छोड़ गया वो शख्स जिसके धोखे में तुझे देखते थे।

ai 🌜chaand🌛chala ja kyon aaya hai too meree chaukhat par,

chhod gaya vo shakhs jisake dhokhe mein tujhe dekhate the.

तुम सुबह का 🌜चाँद🌛बन जाओ, मैं सांझ का सूरज हो जाऊँ!

मिलें हम-तुम यूँ भी कभी, तुम मैं हो जाओ…मैं तुम हो जाऊँ…

tum subah ka 🌜chaand🌛ban jao, main saanjh ka sooraj ho jaoon!

milen ham-tum yoon bhee kabhee, tum main ho jao…main tum ho jaoon…

ना जाने किस रैन बसेरो की तलाश है इस 🌜चाँद🌛को…..।।

रात भर बिना कम्बल भटकता रहता है इन सर्द रातो में….।।

na jaane kis rain basero kee talaash hai is 🌜chaand🌛ko…….

raat bhar bina kambal bhatakata rahata hai in sard raato mein……

बुझ गये ग़म की हवा से, प्यार के जलते चराग,

बेवफ़ाई 🌜चाँद🌛ने की, पड़ गया इसमें भी दाग…

bujh gaye gam kee hava se, pyaar ke jalate charaag,

bevafaee chaandane kee, pad gaya isamen bhee daag…

 

तस्वीर बना कर तेरी आस्मां पे टांग आया हूँ ,

और लोग पूछते हैं आज 🌜चाँद🌛इतना बेदाग़ कैसे है

tasveer bana kar teree aasmaan pe taang aaya hoon ,

aur log poochhate hain aaj chaanditana bedaag kaise hai


यह भी पढ़े –

100 chand par shayari in hindi and english

रातों में टूटी छतों से टपकता है 🌜चाँद 🌛…

बारिशों सी हरकतें भी करता है 🌜चाँद 🌛

raaton mein tootee chhaton se tapakata hai 🌜chaand 🌛…

baarishon see harakaten bhee karata hai chaand

इजाजत हो तो मैं भी तुम्हारे पास आ जाऊँ,

देखों ना 🌜चाँद🌛के पास भी तो एक सितारा है..

ijaajat ho to main bhee tumhaare paas aa jaoon,

dekhon na chaandake paas bhee to ek sitaara hai..

मेरा और उस 🌜चाँद🌛का मुक़द्दर एक जैसा है,

वो तारो में तन्हा मैं हजारो में तन्हा।

mera aur us 🌜chaand🌛ka muqaddar ek jaisa hai,

vo taaro mein tanha main hajaaro mein tanha.

ये दिन हैं जब.. 🌜चाँद🌛को देखे.. मुद्दत बीती जाती है,

वो दिन थे जब 🌜चाँद🌛हमारी छत पे आया करता था.

ye din hain jab.. 🌜chaand🌛ko dekhe.. muddat beetee jaatee hai,

vo din the jab chaandahamaaree chhat pe aaya karata tha.

है 🌜चाँद🌛सितारों में चमक तेरे प्यार की

हर फूल से आती है महक तेरे प्यार की

hai 🌜chaand🌛sitaaron mein chamak tere pyaar kee

har phool se aatee hai mahak tere pyaar kee

🌜चाँद🌛मत मांग मेरे 🌜चाँद🌛जमीं पर रहकर,

खुद को पहचान मेरी जान खुदी में रहकर.

🌜chaand🌛mat maang mere 🌜chaand🌛jameen par rahakar,

khud ko pahachaan meree jaan khudee mein rahakar.

हमने क़सम खायी है 🌜चाँद🌛को 🌜चाँद🌛रहने देंगे ..

🌜चाँद🌛में अब तुम को ना ढूँढा करेंगे ..

hamane qasam khaayee hai 🌜chaand🌛ko 🌜chaand🌛rahane denge ..

chaandamen ab tum ko na dhoondha karenge .

🌜चाँद🌛तारो में नज़र आये चेहरा आपका

जब से मेरे दिल पे हुआ है पहरा आपका

🌜chaand🌛taaro mein nazar aaye chehara aapaka

jab se mere dil pe hua hai pahara aapaka

वैसे तो कई दोस्त है हमारे जैसे आसमान में है कई तारे

पर आप दोस्ती के आसमान के वो 🌜चाँद🌛है जिसके सामने फीके पड़ते हैं सारे सितारे.

vaise to kaee dost hai hamaare jaise aasamaan mein hai kaee taare

par aap dostee ke aasamaan ke vo chaandahai jisake saamane pheeke padate hain saare sitaare.

नजर में आपकी नज़ारे रहेंगे; पलकों पर 🌜चाँद🌛सितारे रहेंगे;

बदल जाये तो बदले ये ज़माना; हम तो हमेशा आपके दीवाने रहेंगे

najar mein aapakee nazaare rahenge; palakon par 🌜chaand🌛sitaare rahenge;

badal jaaye to badale ye zamaana; ham to hamesha aapake deevaane rahenge 

चलेगा मुकदमा आसमां में, सब आशिकों पर एक दिन…

जिसे देखो अपने महबूब को चाँद बताता है …. ❤️❤️❤️

chalega mukadama aasamaan mein, sab aashikon par ek din…

jise dekho apane mahaboob ko chaand bataata hai ….

झूठ बोलता होगा कभी चाँद भी,

इसलिए तो रुठ कर तारे टूट जाते हैं।

jhooth bolata hoga kabhee chaand bhee,

isalie to ruth kar taare toot jaate hain.

बेचैन इस क़दर था कि सोया न रात भर

पलकों से लिख रहा था तेरा नाम 🌜चाँद🌛पर

bechain is qadar tha ki soya na raat bhar

palakon se likh raha tha tera naam chaandapar

खफा खफा से रहने लगे हैं वो मुझसे आजकल,

बात बस इतनी है की चाँद को चाँद कह दिया था हमने!!

khapha khapha se rahane lage hain vo mujhase aajakal,

baat bas itanee hai kee chaand ko chaand kah diya tha hamane!!

आओ तुम्हें चाँद पर ले चलू 🤗

ज़मीन पर रिश्तेदार बहुत हैं 😍😇

aao tumhen chaand par le chaloo 🤗

zameen par rishtedaar bahut hain

सुन चाँद उड़ा ले चल मेहबूब के आंगन,,

आज रात मुझे मेहबूब के बाहों में गुजारनी है

sun chaand uda le chal mehaboob ke aangan,,

aaj raat mujhe mehaboob ke baahon mein gujaaranee hai

गुलों से राब्ता, चाँद से बातें, रेशमी तमन्नाएं  और आप..सच…!!

बड़े ही ख़ुशनुमा होते हैं, ये ख़्वाहिशों के मौसम…!!!!

gulon se raabta, chaand se baaten, reshamee tamannaen  aur aap..sach…!!

bade hee khushanuma hote hain, ye khvaahishon ke mausam…!!!!

एक रोज मेरी गली में आ तो सही,

चांद कैसा होता है वह दिखा तो सही ,

लोग घूमने जाते हैं बड़े शहरों में

तू मेरी गली में आके उसको जन्नत बना तो सही

ek roj meree galee mein aa to sahee,

chaand kaisa hota hai vah dikha to sahee ,

log ghoomane jaate hain bade shaharon mein

too meree galee mein aake usako jannat bana to sahee


यह पोस्ट आपको कैसी लगी ?

मुझे आशा है की आपको हमारा यह लेख 100 chand par shayari in hindi and english जरुर पसंद आया होगा मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की आपको चाँद पर शायरी के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे आपको किसी दुसरी वेबसाइट या इन्टरनेट में इस विषय के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत नहीं पड़े।  जिससे आपके समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में आपको सभी तरह की जानकारी भी मिल जाएगी। 

अगर आपको पोस्ट अच्छी लगी तो कमेंट box में अपने विचार दे ताकि हम इस तरह की और भी पोस्ट करते रहे। यदि आपके मन में इस पोस्ट को लेकर कोई भी किसी भी प्रकार की उलझन या हो या आप चाहते हैं की इसमें कुछ और सुधार होना चाहिए तो इसके लिए आप नीच comment box में लिख सकते हैं।

यदि आपको यह पोस्ट चाँद पर शायरी पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तो कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे WhatsApp, Facebook, Instagram, Telegram, Twitter, Google+  और Other Social media sites पर शेयर जरुर  कीजिये।

|❤| धन्यवाद |❤|…

1 thought on “100 chand par shayari in hindi and english”

Leave a Comment

error: Content is protected !!