संगति का असर – Effect of consistency

संगति  का असर – Effect of consistency

|| संगति  का असर  || Effect of consistency ||
|| संगति  का असर  || Effect of consistency ||

संगति का असर – Effect of consistency – एक राजा का तोता मर गया। उन्होंने कहामंत्रीप्रवर! हमारा पिंजरा सूना हो गया। इसमें पालने के लिए एक तोता लाओ। तोते सदैव तो मिलते नहीं। राजा पीछे पड़ गये तो मंत्री एक संत के पास गये और कहाभगवन्! राजा साहब एक तोता लाने की जिद कर रहे हैं। आप अपना तोता दे दें तो बड़ी कृपा होगी। संत ने कहाठीक है, ले जाओ।

राजा ने सोने के पिंजरे में बड़े स्नेह से तोते की सुखसुविधा का प्रबन्ध किया। ब्रह्ममुहूर्त में तोता बोलने लगाओम् तत्सत्….ओम् तत्सत्उठो राजा! उठो महारानी! दुर्लभ मानवतन मिला है। यह सोने के लिए नहीं, भजन करने के लिए मिला है।

चित्रकूट के घाट पर भई संतन की भीर। तुलसीदास चंदन घिसै तिलक देत रघुबीर।।

कभी रामायण की चौपाई तो कभी गीता के श्लोक उसके मुँह से निकलते। पूरा राजपरिवार बड़े सवेरे उठकर उसकी बातें सुना करता था। राजा कहते थे कि सुग्गा क्या मिला, एक संत मिल गये।

हर जीव की एक निश्चित आयु होती है। एक दिन वह सुग्गा मर गया। राजा, रानी, राजपरिवार और पूरे राष्ट्र ने हफ़्तों शोक मनाया। झण्डा झुका दिया गया। किसी प्रकार राजपरिवार ने शोक संवरण किया और राजकाज में लग गये। पुनः राजा साहब ने कहामंत्रीवर! खाली पिंजरा सूनासूना लगता है, एक तोते की व्यवस्था हो जाती!

मंत्री ने इधरउधर देखा, एक कसाई के यहाँ वैसा ही तोता एक पिंजरे में टँगा था। मंत्री ने कहा कि इसे राजा साहब चाहते हैं। कसाई ने कहा कि आपके राज्य में ही तो हम रहते हैं। हम नहीं देंगे तब भी आप उठा ही ले जायेंगे। मंत्री ने कहानहीं, हम तो प्रार्थना करेंगे। कसाई ने बताया कि किसी बहेलिये ने एक वृक्ष से दो सुग्गे पकड़े थे। एक को उसने महात्माजी को दे दिया था और दूसरा मैंने खरीद लिया था। राजा को चाहिये तो आप ले जायँ।

अब कसाईवाला तोता राजा के पिंजरे में पहुँच गया। राजपरिवार बहुत प्रसन्न हुआ। सबको लगा कि वही तोता जीवित होकर चला आया है। दोनों की नासिका, पंख, आकार, चितवन सब एक जैसे थे। लेकिन बड़े सवेरे तोता उसी प्रकार राजा को बुलाने लगा जैसे वह कसाई अपने नौकरों को उठाता था कि उठ! हरामी के बच्चे! राजा बन बैठा है। मेरे लिए ला अण्डे, नहीं तो पड़ेंगे डण्डे!

राजा को इतना क्रोध आया कि उसने तोते को पिंजरे से निकाला और गर्दन मरोड़कर किले से बाहर फेंक दिया।

 

दोनों सुग्गे सगे भाई थे। एक की गर्दन मरोड़ दी गयी, तो दूसरे के लिए झण्डे झुक गये, भण्डारा किया गया, शोक मनाया गया। आखिर भूल कहाँ   हो गयी? अन्तर था तो संगति का! सत्संग की कमी थी।

 

संगत ही गुण होत है, संगत ही गुण जाय।

बाँस फाँस अरु मीसरी, एकै भाव बिकाय।।

सत्य क्या है और असत्य क्या है? उस सत्य की संगति कैसे करें?

सनातन सेवा समिति!!

पूरा सद्गुरु ना मिला, मिली साँची सीख।

भेष जती का बनाय के, घरघर माँगे भीख।।

 

सदैव प्रसन्न रहिये।

जो प्राप्त है, पर्याप्त है।।

:: Translate In English ::

संगति  का असर – Effect of consistency

|| संगति  का असर  || Effect of consistency ||
|| संगति  का असर  || Effect of consistency ||

One   King   Of   Parrot   Die   Gone.   They   said   Minister ! our   Cage   Suna   Ho   Gone.   in this   Cradle   K   for   One   Parrot   Bring.   Parrots   Always   So   See you   No.   King   behind   Fall   Live   So   Minister   One   Saint   K   near   Live   and   said   God ! King   Sir   One   Parrot   bring   Of   stubbornness   Tax   are   Huh.   you   own   Parrot   Give   Give   So   big   Please   Will be.   Saint   Ne   said   Fine   is ,  Take   Go.   

King   Ne   Gold   K   Cage   In   Big   Affection   From   Parrots   Of   happiness Facility   Of   Management   did.   Brahmuhurt   In   Parrot   To speak   felt   Om   Tatsat …. Om   Tatsat  get up   King ! get up   Your Highness ! rare   human Body   met   is.   this   Gold   K   for   No ,  hymn   do   K   for   met   is.   

Picture   K   Ghat   On   Brother   Santan   Of   Bhir.   Tulsidas   Sandalwood   Beloved   Tilak   Day   Raghubir.

sometimes   Ramayana   Of   Quadruple   So   sometimes   Geeta   K   Verse   his   mouth   From   Out.   whole   Royal family   Big   morning   getting up   his   Things   Heard   Does   Was.   King   Say   Were   That   Sugga   what   met ,  One   Saint   Mill   Gone.

Everyone   creatures   Of   One   Fixed   Age   it happens   is.   One   day   that   Sugga   Die   Gone.   King ,  Queen ,  Royal family   and   whole   Nation   Ne   weeks   Mourning   Celebrated.   Jhanda   Bowed   gave   Gone.   somebody   type   Royal family   Ne   Mourning   Camouflage   did   and   Rajkaj   In   looks   Gone.   Again   King   Sir   Ne   said   Minister ! Empty   Cage   Suna Suna   looks like   is ,  One   Parrots   Of   the arrangement   Ho   She goes !

Minister   Ne   Here there   saw ,  One   Butcher   K   here   like that   Hee   Parrot   One   Cage   In   Tanga   Was.   Minister   Ne   said   That   this   King   Sir   Want   Huh.   Butcher   Ne   said   That   your   state   In   Hee   So   We   live   Huh.   We   No   Will give   Then   Too   you   Woke up   Hee   Take   Will go .   Minister   Ne   said   No ,  We   So   Prayer   will do.   Butcher   Ne   Told   That   somebody   Exclude   Ne   One   Tree   From   two   Sugge   Hold   Were.   One   To   He   Mahatmaji   To   Give   gave   Was   and   Second   I   Purchase   took   Was.   King   To   Want   So   you   Take   Go .

now   Butcher   Parrot   King   K   Cage   In   Access   Gone.   Royal family   very   Happy   Happened.   Everyone   felt   That   the same   Parrot   Living   Through this   walked   He Came   is.   Both   Of   Nasal ,  wing ,  Shape ,  Pied   All   One   like   Were.   but   Big   morning   Parrot   the same   type   King   To   Call   felt   like   that   Butcher   your   Servants   To   Pick up   Was   That   get up ! bastard   K   children ! King   Become   sitting   is.   my   for   La   Ande ,  No   So   Will fall   Dunday !

King   To   So much   anger   He Came   That   He   Parrots   To   Cage   From   Removed   and   Neck   Jerking   Fort   From   outside   Throw   gave.

 

Both   Sugge   Rotten   brother   Were.   One   Of   Neck   Torsion   Granted   Added ,  So   Others   K   for   Jhande   Bow   Live ,  Store   did   Gone ,  Mourning   Celebrated   Gone.   After all   forget   Where     Ho   Added ? Other   Was   So   Association   Of ! Satsang   Of   Lack   was.

 

Company   Hee   a quality   Hot   is ,  Company   Hee   a quality   Go .

Bamboo   Phans   Aru   Measri ,  Acai   Emotion   Sold.

truth   what   is   and   false   what   is ? That   truth   Of   Association   how   Do it ?

Sanatan   Service   Committee !!

whole   Sadguru   No   met ,  Found   No   Sniper   Learn.

disguise   Jati   Of   Made   K ,  House House   Mother   Begging.

 

Always   Happy   Stay.

that   get   is ,  Enough   is.

यह कहानिया भी पढ़े –

 

Fun-hindi.com पर आपको ढेर सारी बेहतरीन हिंदी मोहब्बत शायरी, हिंदी नए स्टेटस, हिंदी जोक्स, चुटकुले, हिंदी में विशेष दिवस की जानकारी और प्रेरणादायक हिंदी कहानियाँ मिलेंगी जिन्हें आप अपने दोस्तों और परिवार के लोगों को भेज सकते हैं। हम ट्रेंडिंग अपडेट्स पर भी पोस्ट करते हैं।

3 thoughts on “संगति का असर – Effect of consistency”

  1. सदैव प्रसन्न रहिये।

    जो प्राप्त है, पर्याप्त है।।
    nice story…………………..

    Reply
  2. 'संगत ही गुण होत है, संगत ही गुण जाय।

    बाँस फाँस अरु मीसरी, एकै भाव बिकाय।।'

    Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!